हरियाणा सरकार चिराग योजना 2024: आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों के लिए निजी शिक्षा की नई किरण

चिराग योजना हरियाणा क्या है?

हरियाणा सरकार ने चिराग योजना की शुरुआत की है, जिसका उद्देश्य राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के बच्चों को निजी स्कूलों में शिक्षा प्रदान करना है। इस योजना के तहत, सरकार उन बच्चों की शिक्षा का खर्च उठाती है जिनके परिवार की वार्षिक आय 1.80 लाख रुपये से कम है. यह योजना न केवल शिक्षा के क्षेत्र में बल्कि समाज के समग्र विकास में भी एक महत्वपूर्ण योगदान दे रही है।

नामचिराग योजना हरियाणा
पूरा नाममुख्यमंत्री समान शिक्षा राहत, सहायता और अनुदान (चिराग) योजना
द्वारा अनुमोदितहरियाणा राज्य सरकार
उद्देश्यआर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के छात्रों को निजी स्कूलों में शिक्षा प्रदान करना
लाभार्थीहरियाणा के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र, विशेषकर जिनकी पारिवारिक आय 1.8 लाख रुपये प्रति वर्ष से कम हो
आधिकारिक वेबसाइटसंबंधित जानकारी https://schooleducationharyana.gov.in/ पर आधारित स्रोत पर मिल सकती है

चिराग योजना हरियाणा के पात्रता मानदंड

  • आवेदक हरियाणा राज्य का नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक का परिवार आर्थिक रूप से कमजोर हो और उनकी वार्षिक आय 1.80 लाख रुपये से कम हो.

चिराग योजना हरियाणा की आवेदन प्रक्रिया

  • आवेदन फॉर्म भरने के बाद, आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करना होता है।
  • फॉर्म उस स्कूल में जमा करना होता है जहाँ आप अपने बच्चे का दाखिला कराना चाहते हैं।
  • फॉर्म जमा करते समय एक रसीद दी जाती है, जिसे सुरक्षित रखना होता है.

चिराग योजना हरियाणा के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

  1. आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ: सबसे पहले, आपको चिराग योजना हरियाणा की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. आवेदन फॉर्म भरें: वेबसाइट पर जाने के बाद, आपको आवेदन फॉर्म मिलेगा। इस फॉर्म में आपको सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करनी होगी और मांगे गए दस्तावेजों को संलग्न करना होगा.
  3. दस्तावेज संलग्न करें: आवेदन फॉर्म के साथ आपको आवश्यक दस्तावेज जैसे कि आय प्रमाण पत्र, छात्र का पासपोर्ट साइज फोटो, आधार कार्ड, आयु प्रमाण पत्र, राशन कार्ड आदि संलग्न करने होंगे.
  4. फॉर्म जमा करें: आवेदन फॉर्म और सभी आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करने के बाद, आपको फॉर्म को उस स्कूल में जमा करना होगा जहाँ आप अपने बच्चे का दाखिला कराना चाहते हैं.
  5. रसीद प्राप्त करें: फॉर्म जमा करते समय आपको एक रसीद मिलेगी, जिसे आपको सुरक्षित रखना होगा। यह रसीद आपके आवेदन की पुष्टि के रूप में काम करेगी.

चिराग योजना हरियाणा के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • परिवार का प्रमाण पत्र जिसमें आय का प्रमाण हो।
  • छात्र की हाल की फोटो।
  • छात्र का SRN नंबर, SLC, आधार नंबर और रक्त समूह।
  • EWS प्रमाण पत्र और हरियाणा निवासी प्रमाण पत्र.

चिराग योजना हरियाणा के आवेदन की अंतिम तिथि

चिराग योजना हरियाणा 2024 के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2024 है.

चिराग योजना हरियाणा की चयन प्रक्रिया

  • चिराग योजना के तहत चयन प्रक्रिया में लॉटरी सिस्टम का उपयोग होता है, जिससे पात्र आवेदकों का चयन निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से हो सके।
  • चयनित छात्रों की सूची स्कूल और सरकारी वेबसाइट पर प्रकाशित की जाती है।

चिराग योजना हरियाणा के लाभ

  • इस योजना के तहत, सरकार निजी स्कूलों को प्रति छात्र शिक्षा शुल्क के रूप में निश्चित राशि प्रदान करती है।
  • इससे गरीब बच्चे भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं.

शिक्षा की गुणवत्ता

योजना का एक महत्वपूर्ण उद्देश्य गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना है। इसके लिए, सरकार ने निजी स्कूलों के साथ साझेदारी की है जो शिक्षा के उच्च मानकों को पूरा करते हैं।

निगरानी और मूल्यांकन

सरकार ने योजना के क्रियान्वयन और प्रभाव की निगरानी के लिए एक व्यवस्था बनाई है। इसमें निजी स्कूलों के प्रदर्शन का मूल्यांकन और छात्रों की प्रगति की निगरानी शामिल है।

चिराग योजना हरियाणा की आलोचना

कुछ अध्यापक संगठनों ने इस योजना का विरोध किया है, यह कहते हुए कि इससे सरकारी स्कूलों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है और इससे निजी स्कूलों को बढ़ावा मिल सकता है.

चिराग योजना हरियाणा के माध्यम से सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है, जिससे राज्य के कमजोर वर्ग के बच्चों को भी उच्च शिक्षा के अवसर मिल सकें। इस योजना के जरिए शिक्षा का प्रसार तेजी से बढ़ेगा और यह समाज के हर वर्ग के लिए शिक्षा को सुलभ बनाने में सहायक होगा।

Leave a Comment